अलीगढ़ में CAA विरोधी प्रदर्शनकारियों और पुलिस की झड़प, टेंट लगाने की इजाजत को लेकर हंगामा

लखनऊ: CAA Protests: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प हुई है. पुलिस के मुताबिक, कुछ प्रदर्शनकारियों द्वारा कथित रूप से पत्थर फेंकने के बाद झड़पें हुईं, जिससे पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले का सहारा लिया. भीड़ द्वारा एक पुलिस वाहन में तोड़फोड़ की गई है और कुछ पुलिस वाले भी घायल हुए हैं.

पुलिस के अनुसार झड़प तब हुई जब कुछ प्रदर्शनकारियों ने कथित तौर पर पत्थर फेंकना शुरू कर दिया. इसके बाद पुलिस ने भीड़ तो तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े.  भीड़ द्वारा एक पुलिस वाहन में तोड़फोड़ की गई है और कुछ पुलिस वासे घायल भी हुए हैं. स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस का एक रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) तैनात किया गया है. यह हिंसा अलीगढ़ के उपरकोट कोतवाली क्षेत्र के आसपास के दो किलोमीटर के इलाके में हुई है.

बता दें कि शहर के दिल्ली गेट इलाके में पुलिस द्वारा टेंट लगाने की इजाजत नहीं देने के एक बाद झड़प हुई है. शुक्रवार को अलीगढ़ में बारिश के बाद बदलते मौसम को देखते हुए प्रदर्शनकारियों ने यहां टेंट लगाने की इजाजत मांगी थी. इस इलाके में करीब एक महीने से विवादित नागरिकता कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन चल रहा है.

घटना के बाद पत्रकारों से बात करते हुए अलीगढ़ के जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह ने बताया कि स्थिति नियंत्रण में है और भीड़ को तितर-बितर कर दिया गया है. उन्होंने कहा, 'हिंसा' तब शुरू हुई जब एक स्थानीय पुलिस अधिकारी के वाहन पर पथराव किया गया.


 


 


साभार- एनडीटीवी