1000 स्क्वायर फीट के प्लाट पर नक्शे स्वीकृति का नहीं लगेगा शुल्क, इंदौर के विकास की नई इबारत लिखेंगे : महापौर प्रत्याशी पवार

 इंदौर । एनसीपी के महापौर प्रत्याशी कुलदीप सिंह पवार ने कहा कि अगर वह महापौर बनते हैं तो इंदौर के विकास की नई इबारत लिखेंगे। जरूरतमंद परिवारों में से एक व्यक्ति को नगर निगम में नौकरी दी जाएगी तथा 1000 स्क्वेयर फीट के प्लाट पर नक्शा स्वीकृति का शुल्क नहीं देना होगा । छोटे से प्लाट के लिए नक्शा स्वीकृत कराने में भी हजारों रुपए खर्च हो जाते हैं। कुलदीप सिंह पवार ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि हमारे राष्ट्रीय नेता शरद पवार के नेतृत्व में पार्टी के सदस्य कार्य कर रहे हैं और मैं छात्र राजनीति से जुड़ा हुआ हूं और समाज सेवा में हमेशा सक्रिय रहता हूं । उन्होंने कहा कि अगर मैं महापौर बनता हूं तो अस्थाई कर्मचारियों को स्थाई करेंगे जिनके सर्विस के 3 वर्ष पूर्ण हो चुके हैं। जिससे परिवारों का पालन पोषण सहज तरीके से हो सके। 60 वर्ष से के वृद्ध की संपत्ति कर में 40 प्रतिशत छूट दी जाएगी इसके साथ ही महिलाओं को संपत्ति कर में 50% की छूट मिलेगी। शहर का यातायात अव्यवस्थित है इसे सुगम बनाने के लिए बीआरटीएस को समाप्त करेंगे एवं चौराहे पर फ्लाईओवर का निर्माण करेंगे । श्री पवार का कहना है कि इंदौर को वाईफाई जोन बनाएंगे और कोरोना काल में लिए गए टैक्स लाइसेंस फीस माफ करना उनकी प्राथमिकता होगी। नगर निगम द्वारा लेबोरेटरी में 40% की छूट मिलेगी इसके अलावा बच्चों के खेलने कूदने के लिए इंडोर एवं आउटडोर खेल मैदान का निर्माण हर क्षेत्र में किया जाएगा। 1 वर्ष में काना नदी को स्वच्छ कर नए घाट का निर्माण करना उनकी प्राथमिकता होगी । उन्होंने कहा कि नो व्हीकल जोन ग्रीनरी को बढ़ाया जाएगा और आधुनिक पशु चिकित्सालय का निर्माण किया जाएगा । शहर में ड्रेनेज एवं पानी की व्यवस्था ठीक करेंगे साथ ही सब्जी फल का हॉकर्स जोन अलग से बनाया जाएगा। 



टिप्पणियाँ
Popular posts
स्टेयरिंग फेल होने से घर में घुसी पिकअप, ड्राइवर की मौके पर ही मौत तीन घायल, - घटना के बाद ग्रामीणों ने स्टेट हाईवे पर लगाया जाम, वाहनों की लंबी कतार
चित्र
कोठीदा का मिट्टी वाला बांध हुआ लिकेज, एक दर्जन से अधीक ग्राम के लोग घबराए
चित्र
तबाही का मंझर आंखों के सामने~~~ 2 दिन से चल रहा डेम में लीकेज सही करने का काम, बाँध को खाली करने की जा खुदाई में आ रही दिक्‍कत दोनों ओर बनाई जा रही चेनल
चित्र
दोषियों पर कारवाई क्यो नही:, वीडियो से मिली डेम की लगी जानकारी जिम्मेदार अधिकारी को पानी रिसने की नही थी जानकारी, जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने उद्योग मंत्री दत्तीगांव के साथ किया मुआयना
चित्र
बाग में पटवारी की मिलीभगत से दूसरे जमीन घोटाले में भी केस दर्ज
चित्र