छावनी परिषद उपाध्यक्ष श्रीमती पांडे ने यात्रियों की समस्याओं को लेकर रेलवे महाप्रबंधक को सौंपा ज्ञापन

रेल्वे महाप्रबंधक के महू आगमन पर छावनी परिषद के उपाध्यक्ष ने महू के यात्रियों की प्रमुख 6 समस्याओं को लेकर एक ज्ञापन सौंपा


   आज महू रेल्वे स्टेशन पर रेल्वे के महाप्रबंधक आलोक कंसल 11:30 पर पहुंचे उनके साथ रतलाम मंडल के डीआरएम जी थे। यहां महू छावनी परिषद की उपाध्यक्ष अरुणा दत्त पांडेय ने महू के यात्रियों को लेकर प्रमुख 6 समस्याओं का एक ज्ञापन उन्हें सौंपा जिनमें प्रमुख रूप से कहा गया कि महू इंदौर लगभग 5 से 10000 यात्री अप डाउन करते हैं, जिनमें से लगभग 3000 मासिक पास धारी हैं। क्योंकि बस परिवहन की बजाए रेल परिवहन काफी सुविधाजनक होता है विशेष रूप से महिलाओं के लिए ऐसी स्थिति में महू से इंदौर सुबह 9:00 बजे एवं इंदौर से महू शाम 6:00 बजे एक शटल पूर्वानुसार चलाया जाना चाहिए।  


2. पूर्व में महू से रीवा 11703 वह 11704 अप डाउन होने वाली ट्रेन जो बंद कर दी गई है उसे पुनः चालू कराया जाए। चौकी पीतमपुर में लगभग 25000 श्रमिक रीवा सतना कटनी सागर रूट के कार्य करते हैं जिन्हें उक्त ट्रेन से काफी सुविधा थी जो लॉकडाउन के समय बंद हो जाने से काफी परेशानियां हो रही हैं उसे पुनः चालू कराया जाए।


 3 भविष्य में डी ए डी एन सुविधा का कार्य निरंतर प्रगति पर है जिससे यहां चलने वाली यात्री गाड़ियों को आरक्षण हेतु आपातकालीन कोटा डी ए डी एन से ही मिलने की सुविधा मिल सके।


 4. डॉक्टर अंबेडकर नगर महू रेल्वे स्टेशन से कई ट्रेनों का संचालन हो चुका है किंतु यात्रियों को रेल्वे स्टेशन पर चाय नाश्ते की कोई सुविधा नहीं है अतः इस हेतु तत्काल एक स्टाल प्रारंभ किया जाए। 


5. डॉक्टर अंबेडकर नगर रेल्वे स्टेशन पर पे एंड यूज शौचालय एवं साइकिल स्टैंड लॉकडाउन के पूर्व बंद कर दिए गए थे जिन्हें पुनः चालू किया जाए ताकि यात्रियों को सुविधा हो सके एवं स्कूटर मोटरसाइकिल आदि जो इधर-उधर बेतरतीब खड़े कर दिए जाते हैं वह भी व्यवस्थित और सुरक्षित हो सके।


6. रेलवे स्टेशन महू का नाम संविधान निर्माता डॉ बाबासाहेब आंबेडकर के नाम पर कर दिया गया है इस हेतु हमने एक प्रस्ताव दिया था की रेल्वे स्टेशन के आसपास खाली स्थान पर हमें जगह दी जाए ताकि हम वहां बाबासाहेब आंबेडकर की मूर्ति स्थापित कर सकें साथ ही महू में जानापाव भगवान परशुराम का जन्म स्थान भी है उनकी भी मूर्ति लगाने का प्रस्ताव लंबित है उसे भी स्वीकृत किया जाए।


     बोर्ड उपाध्यक्ष श्रीमती अरुणा पांडे के साथ पूर्व उपाध्यक्ष कैलाश दत्त पांडे, रेलवे मंडल के मजदूर संघ पूर्व संभागी सहायक मंत्री श्री राकेश दुबे, जिला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री श्री संजय जैन, संजय भदोरिया, शहर कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष विजय नौलखा, ग्रामीण कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सदाशिव पटेल आदि भी मौजूद थे। जीएम ने काफी देर तक अन्य विषयों पर भी चर्चा की तथा प्रतिनिधिमंडल को शीघ्र ही समस्याओं के निराकरण का विश्वास दिलाया।