वरिष्ठ ट्रैफिक वार्डन स्व. निर्मला पाठक की स्मृति में उनका जन्म दिन 16 अगस्त हर साल इंदौर शहर में यातायात सुधार दिवस के रूप में मनाया जावेगा.

वरिष्ठ ट्रैफिक वार्डन स्व. निर्मला पाठक की स्मृति में उनका जन्म दिन 16 अगस्त हर साल इंदौर शहर में यातायात सुधार दिवस के रूप में मनाया जावेगा.



इस सम्बंध में इंदौर झोन आईजी विवेक शर्मा ने निर्देश दिए।
इंदौर के यातायात को 30 वर्षों तक निस्वार्थ सेवा देने वाली निर्मला बालकृष्ण पाठक का 96 वर्ष की आयु में कल उनके निवास स्थान लव कुश विहार सुखालिया में स्वर्गवास हो गया।


वे पहली महिला ट्रैफिक वार्डन थी जिनके द्वारा इंदौर शहर के विभिन्न चौराहों पर ट्रैफिक का संचालन किया गया| आज आईजी विवेक शर्मा उनके निवास स्थान पर पहुँचे और श्रद्धांजलि अर्पित की। उनके बड़े पुत्र श्रीकांत पाठक से उनके जीवन एवं उनकी कार्यशैली के बारे में जाना।


उसके उपरांत आईजी द्वारा बताया गया कि उनके जन्म दिन 16 अगस्त को प्रतिवर्ष उनकी स्मृति में इंदौर शहर में यातायात सुधार दिवस के रूप में मनाया जावेगा एवं श्रेष्ठ ट्रैफिक वार्डन को सम्मानित किया जाएगा।