राई का ताड़ बनाया जा रहा है ज्योतिरादित्य के बयान को...

राई का ताड़ क्यो बनाया जा रहा है ज्योतिरादित्य के बयान को...
ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि यदि लोगो की समस्या हल नही हुई वचन पत्र पर अमल नही हुवा तो जनता की लड़ाई के लिये सड़क पर उतरूंगा?  उन्होंने यह नही कहा कि कमलनाथ के खिलाफ सड़क पर उतरूंगा !इधर इस बयान के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ को किसी ने बताया तो उन्होंने सिर्फ इतना कहा उतर जाये..? इसमें कोई शक नही की कमलनाथ, दिग्विजयसिंह, ज्योतिरादित्य  में बेहतर तालमेल है सिंधिया ने यह भी कहा कि अभी सरकार को एक वर्ष हुवा हैं सिंधिया गुट से कई मंत्री कमलनाथ सरकार में वजनदार मंत्री पद पर है और उनका कमलनाथ से बेहतर तालमेल है ऐसे में क्यो तूल दिया जा रहा है नेताओं को सार्वजनिक रूप से कहना ही पड़ता हैं कि अगर आपकी समस्याओं का समाधान नही हुआ तो में आपके साथ सड़कों पर उतरूंगा ?आश्चर्य भाजपा के नेताओं पर हो रहा है जो इनके बयान को राजनीतिक रूप देकर भुनाने की कोशिश कर रहे हैं ?ज्योति,दिग्गी राजा ,कमलनाथ के तालमेल से ही आज मध्यप्रदेश में कांग्रेस ने कम समय मे जनता के बीच छबि बनाई है  ज्योतिरादित्य सिंधिया भी इस सरकार के अंग है जो सरकार की नीतियों, जनता तक पहुंचा रहे हैं और हर उस कार्यक्रम का प्रतिनिधित्व सरकार के मंत्री उनसे करवा रहे हैं जिनमे खुद कमलनाथ सरकार के मंत्री शामिल होते हैं अभी प्रमाणपत्र सिंधिया द्वारा बाटे गये थे जाहिर है कमलनाथ का सबसे बेहतर तालमेल है