दो फाड़ होते-होते बची आईपीएस एसोसिएशन

भोपाल। गुरुवार को बड़े तालाब में हुई नाव दुर्घटना को लेकर आईपीएस एसोसिएशन में गहरे विवाद नजर आने लगे हैं। देर रात एसोसिएशन उस समय दो फाड़ होने से बच गई जब डीजीपी वीके सिंह ने नाव दुर्घटना के लिए एडीजी डीसी सागर को दोषी मानकर उन्हें आईपीएस मीट से बाहर रखने का फरमान सुनाया, लेकिन कई वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों ने डीजीपी का आदेश मानने से न केवल इंकार कर दिया बल्कि डीसी सागर को शाम के कार्यक्रम में सम्मान सहित लेकर भी पहुंच गए। यह बात दूसरी है कि डीसी सागर ने शाम के कार्यक्रम में अपनी निर्धारित प्रस्तुति नहीं दी। 
आईपीएस मीट के दो दिवसीय कार्यक्रम के दूसरे दिन गुरुवार दोपहर में भोपाल के बड़े तालाब में वाटर एक्टीविटिस के दौरान एक ड्रेगन नाव पलट जाने से लगभग 12 लोग डूबते-डूबते बचे थे। इनमें पुलिस महानिदेशक वीके सिंह की पत्नी के अलावा अन्य आईपीएस अधिकारी और उनके परिजन शामिल थे। घटना के बाद बचाव दल ने मात्र 15 सेकेंड में सभी को सकुशल सुरक्षित निकाल लिया था। उम्मीद की जा रही थी कि इतनी बड़ी घटना टलने के बाद पुलिस महानिदेशक वीके सिंह राज्य आपदा राहत (होमगार्ड) के एडीजी डीसी सागर और उनकी टीम को सम्मानित करेंगे। लेकिन घटना के कुछ देर बाद वीके सिंह ने एडीजी अरूणा मोहन राव को फोन कर इस घटना पर अपनी तीखी नाराजगी व्यक्त करते हुए इसके लिए डीसी सागर को दोषी करार दे दिया। यही नहीं डीजीपी ने यह भी मौखिक आदेश दे दिए कि आईपीएस मीट के अगले किसी भी कार्यक्रम में डीसी सागर नहीं दिखना चाहिए। जबकि गुरुवार को रात्रि में आयोजित समापन समारोह में डीसी सागर की बेटी और डीसी सागर को स्वयं सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति देनी थीं। डीजी के आदेश के बाद आईपीएस अधिकारियों में खलबली मच गई। 
बताया जाता है कि आईपीएस एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने तत्काल आपस में बात की और सख्ती के साथ निर्णय लिया कि डीजीपी के मौखिक आदेश की परवाह किये बगैर डीसी सागर को कार्यक्रम में सम्मान सहित साथ रखा जाए। डीजीपी के मौखिक आदेश की जानकारी डीसी सागर को भी मिल गई थी। आईपीएस एसोसिएशन के अध्यक्ष विजय यादव स्वयं डीसी सागर को साथ लेकर कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे। डीसी सागर की बेटी ने प्रस्तुति दी, लेकिन मूड खराब होने के कारण डीसी सागर ने स्वयं प्रस्तुति देने से इंकार कर दिया। आईपीएस एसोसिएशन में चर्चा है कि ऐसी घटनाओं से एसोसिएशन में दरार पड़ती है। 
मुख्य सचिव से दूरी
गुरुवार रात में आईपीएस मीट के समापन समारोह में मुख्य सचिव एसआर मोहंती भी पहुंचे, लेकिन परंपरा के अनुसार डीजीपी वीके सिंह ने उनकी अगवानी नहीं की। पूरे आयोजन में इन दोनों अधिकारियों के बीच दुरिया दिखाई दी।